दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर ट्रेनों का गमनागमन घंटों प्रभावित

दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर ट्रेनों का गमनागमन घंटों प्रभावितदिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर ट्रेनों का गमनागमन घंटों प्रभावित
दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर सोमवार की रात झींझक रेलवे स्टेशन का डाउन एडवांस सिग्नल फेल होने से करीब दो घंटे तक रेल यातायात प्रभावित रहा।

कानपुर देहात (जेएनएन)। दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर सोमवार की रात झींझक रेलवे स्टेशन का डाउन एडवांस सिग्नल फेल होने से करीब दो घंटे तक रेल यातायात प्रभावित रहा। इस दौरान डाउन लाइन पर दस से अधिक ट्रेनों को रोककर धीमी गति से गुजारा गया। एसएनटी स्टाफ ने सिग्नल की मरम्मत करके रेल यातायात सुचारु किया। झींझक के सिग्नल निरीक्षक संदीप कुमार ने बताया कि मौसम में नमी के कारण तकनीकी खराबी आने से सिग्नल लाल हो गया था।

झींझक रेलवे स्टेशन के पास सोमवार की रात 2:44 बजे एडवांस सिग्नल 2 एटी अचानक खराब होने से पैनल बोर्ड पर रेल लाइट सिग्नल का संकेत देखकर स्टेशन मास्टर ने एसएनटी स्टाफ को सूचना दी। एसएनटी स्टाफ ने करीब 2 घंटे तक मशक्कत कर सिग्नल को ठीक किया। भोर 4:45 बजे डाउन लाइन का यातायात सुचारु हो सका। इस दौरान डाउन की रींवा एक्सप्रेस, प्रयागराज एक्सप्रेस, दुरंतो एक्सप्रेस, पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, गाजीपुर एक्सप्रेस, जयपुर इलाहाबाद एक्सप्रेस, गोरखधाम एक्सप्रेस, अवध एक्सप्रेस, मडुआडीह एक्सप्रेस सहित एक दर्जन ट्रेनों को खराब सिग्नल के पास दो-दो मिनट रोककर धीमी गति से गुजारा गया।

हावड़ा-दिल्ली रूट पर दो हिस्से में बंटी मालगाड़ी

धनबाद से गढ़मुक्तेश्वर जा रही कोयला लदी मालगाड़ी सोमवार को आधी रात के बाद कटोघन और खागा के बीच कपलिंग टूटने पर दो हिस्से में बंट गई। गनीमत रही कि पीछे कोई सवारी गाड़ी नहीं थी नहीं तो बड़ा हादसा हो जाता। इससे हावड़ा-दिल्ली का रूट दो घंटे तक बाधित रहा। सोमवार को रात दो बजे मालगाड़ी जब कटोघन और खागा के बीच से गुजर रही थी, तभी उसकी कपलिंग टूट गई और मालगाड़ी दो हिस्सों में बंट गई। इंजन और 56 वैगन आगे बढ़ गए। गाड़ी के लोको पायलट को इसका अहसास होने पर उन्होंने तत्काल सूचना कंट्रोल रूम में दी। उसके बाद रूट पर चल रही ट्रेनों को रास्ते में रोक दिया गया। उधर, इंजन और 56 वैगन की मालगाड़ी खागा स्टेशन से वापस लाई गई। अलग हो गए तीन वैगन को जोड़ा गया। इसके बाद सुबह चार बजे मालगाड़ी खागा स्टेशन पहुंची, तब ट्रैक चालू हुआ। इस बीच मंडुवाडीह-नई दिल्ली, हावड़ा-दिल्ली, सियालदह -नई दिल्ली राजधानी, डिब्रूगढ़-नई दिल्ली राजधानी समेत आधा दर्जन ट्रेनें रास्ते में खड़ी रहीं। इलाहाबाद मंडल के सीनियर जन संपर्क अधिकारी अमन वर्मा का कहना है कि मालगाड़ी की कपलिंग टूटने से इंजन और 56 वैगन अलग हो गए थे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s