लखनऊ महोत्सव में लोगों की उमड़ी भीड़।

lk1_1480181209लखनऊ. यूपी की राजधानी में लखनऊ महोत्सव के दूसरे दिन भी लोगों की भारी भीड़ देखने को मिली। दोपहर से ही लोगों का महोत्सव में आना शुरु हो गया था। शाम होते-होते काफी संख्या में लोग अपनी फैमिली व फ्रेंड सार्किल के साथ पहुंचे। शनिवार को महोत्सव अपने पूरे रंग में नजर आने लगा। पहले दिन जहां कई स्टॉल खाली थे, वहीं दूसरे दिन स्टॉलों पर रौनक दिखी।
फूड जोन में लोगों ने लिया जायका का मजा…
 – महोत्सव के फूड जोन में काफी रौनक रही। राजस्थानी और पंजाबी के साथ कई अन्य प्रदेशों के जायकों का मजा शहरवासियों ने लिया। – फूड स्टॉल पर युवाओं ने खूब मस्ती की। वहीं फूड जोन, फर्नीचर जोन, टेराकोटा जोन के साथ ही विजय स्तूप, अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम, लोहिया द्वार की प्रतिकृति के साथ सेल्फी भी क्लिक की।
 
झूलों का लिया मजा – फन जोन में इस बार कई झूले नए आए हुए हैं जो लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे है। – बड़े ही नहीं बच्चों के लिए भी फन जोन में कई झूले लगाए गए। जिनमें कैडी पिलर, स्केटिंग कार, हेलीकॉप्टर, मिनी ट्रेन, मिक्की माऊस जैसे झूले बच्चों को लुभा रहे है तो वहीं टोरेंटो, ज्वाइंट व्हील के साथ कोलम्बस युवाओं के लिए भी आकर्षण बने है। एटीएम पर लाइन – नोटबंदी का असर महोत्सव पर न पड़े इसलिए एटीएम की व्यवस्था की गई है। – महोत्सव स्थल पर 2 एटीएम लगाए गए है, जहां पर लोगों ने लाइन लगाकर पैसे निकाले। – इसके साथ ही महोत्सव में कुछ स्टॉल पर पेटीएम से पेंमेंट की व्यवस्था भी की गई। – जिसमें मिड नाइट मील, मिस्टर व मिसेज इडली शॉप पर पेटीएम से पेमेंट करने की व्यवस्था की गई है।
 
1_1480220370लखनऊ महोत्‍सव के दूसरे दिन जैसे ही निजामी ब्रदर्स ने कव्‍वाली पेश किया वैसे ही तालियों से पूरा पंडाल गूंज गया। बता दें लखनऊ महोत्सव की दूसरी शाम कव्वाली नाइटस निजामी ब्रदर्स के नाम रही। निजामी ब्रदर्स को सुनने के लिए लोग बेताब नजर आए। निजामी ब्रदर्स ने कव्वाली नाइट की शुरुआत मौला अली मौला से की। इसके बाद उन्होंने अमीर खुसरो की छाप तिलक सब छीनी मोसे नैना म‍िला के गाया तो पूरा पंडाल सूफी रंग में रंग गया। निजामी ब्रदर्स की कव्वाली सुन लोग भाव विभोर हो गए।
आवाज सुनते ही लोग खिंचे चले आए लोग
 
– जैसे जैसे उनकी आवाज महोत्सव में गूंजी लोग पंडालों की तरफ खीचते चले आए। – इसके बाद उन्होंने जोधा अकबर की कव्वाली ख्वाजा मेरे ख्वाजा गाकर लोगों को अपने रंग में रंग लिया। – उनकी कव्वाली को सुनने के लिए लोग कुर्सियों से लगे रहे। – रॉक स्टार का खुद पर फिल्माया सूफी गीत कुन फया कुन गाया तो हर कोई उनके साथ झूमने लगा। एक के बाद एक कव्वाली पेश कर उन्होंने लोगों का दिल जीत लिया। – बीच-बीच में उन्होंने अपने शेरों से लोगों की दाद भी हासिल की। – एक के बाद एक उन्होंने सूफी गाने पेश किए। उनके साथ शोएब, सोराब, कैसर, गुलफाम जीशान, इंतिखाब ने साथ दिया।
 
यहां के लोग सुनते ही नहीं समझते भी है
 
– सूफी गायक उस्ताद चांद निजामी ने कहा कि उन्होंने कई जगहों पर प्रस्तुति दी है मगर जब भी लखनऊ में परफार्मेंस देने आते है तो थोड़ी घबराहट होती है। – यहां के लोग सिर्फ सुनते ही नही समझते भी है, इसलिए यहां पर प्रस्तुति देने पर जिम्मेदारी बढ़ जाती है। – इसके अलावा उन्होंने बताया कि कई फिल्मों के आफर आये है मगर एक फिल्म है जिसमें काम कर रहे है वो 2018 में आएगी जिसके संगीतकार ए आर रहमान है। – आज के कव्वाली के बारे में उन्होने कहा कि कव्वाली का दौर हमेशा एक जैसा रहता है आज कल कुछ लोग कव्वाली का नाम लेकर कुछ भी पेश कर रहे है मगर वो कव्वाली नही है।
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s