नोटबंदी का असर, रोडवेज को नहीं मिल रहे यात्री

कानपुर
msid-55442185width-400resizemode-41लखनऊ-कानपुर के बीच गंगा ब्रिज की रिपेयरिंग के चलते रोडवेज को उम्मीद थी कि यात्रियों का जबर्दस्त लोड मिलेगा, लेकिन नोटबंदी ने सारा खेल बिगाड़ दिया। फिलहाल हालत यह है कि झकरकटी बस अड्डे पर लखनऊ जाने वाली बस आधे घंटे से पहले नहीं भर रही है। एआरएम राजीव सिंह के अनुसार, फिलहाल लोड बिल्कुल सामान्य दिनों की तरह है। हमें जबर्दस्त प्रतिक्रिया की उम्मीद थी।

रोडवेज ने लखनऊ जाने के लिए कानपुर से 120 बसों का बेड़ा तैयार किया था। अफसरों का दावा था कि यात्री मिलने पर हर 5 मिनट में एक बस मिलेगी। हालांकि नोटबंदी ने सारा गणित बिगाड़ दिया। अब तक डिपो से एक बार भी खास तौर पर तैयार रखी गईं बसें बाहर नहीं निकली हैं। मंगलवार शाम झकरकटी बस अड्डे पर बस भर रहे कंडक्टर के अनुसार, यात्रियों से नोटों को लेकर झगड़ा हो रहा है। 96 रुपये की टिकट होने पर हम फुटकर नहीं लौटा पा रहे हैं, क्योंकि सिक्कों की जबर्दस्त किल्लत है। कुछ लोग 100 का नोट देकर चले जाते हैं। यात्री बाकी दिनों की तरह हैं। ट्रेनें कम होने का फर्क नहीं है।

कानपुर-फर्रुखाबाद में हंगामा
कानपुर के चमनगंज एरिया में पंजाब नैशनल बैंक में नोट बदलवाने के लिए कतार में खड़े लोगों ने मंगलवार शाम हंगामा कर दिया। इससे मेन गेट का एक शीशा टूट गया। हालांकि पुलिस की मौजूदगी के चलते कोई उपद्रव नहीं कर सका। इसी तरह फर्रुखाबाद के फतेहगढ़ में घंटों से नोट के लिए लाइन में खड़े लोगों ने काफी देर होने पर मेन गेट का शीशा तोड़ दिया।


Read More….KANPUR NEWS


Advertisements